There was an error in this gadget

Monday, 3 October 2011

माँ और बेटा




                                                    माँ जब भी रोती थी ,
                                                    जब बेटा रोटी नहीं खाता  था |
                                                    माँ आज भी रोती है ,
                                                    जब बेटा  रोटी नहीं देता है|
                                                   दुनिया में सबसे बड़ी सेवा माँ की सेवा,
                                                   जो करे माँ की सेवा उसको मिले मेवा |